Neet/Aims/IIT-JEE की तैयारी के लिए कैसे करें बेहतर कोचिंग का चुनाव || How to choose best coaching for Neet/Aims/IIT-JEE 


Neet/Aims/IIT-JEE की तैयारी के लिए कैसे करें बेहतर कोचिंग का चुनाव || How to choose best coaching for Neet/Aims/IIT-JEE


      10वीं के बाद NEET/AIIMS/IIT-JEE प्रवेश परीक्षार्थियों की तैयारी के लिए अच्छे कोचिंग का चयन करना बहुत महत्वपूर्ण फैसला है, जो कि हमें बहुत सोच समझ कर करना चाहिए| अगर आप जल्दबाजी में बिना छानबीन किए गलत फैसला ले लेते हैं तो आपके बच्चे के भविष्य के लिए नुकसान दाई हो सकता है| उत्तम कोचिंग के चुनाव के लिए निम्नलिखित बातों पर एक बार जरूर विचार करें|

‌1 - आजकल Coaching में दाखिला के समय अभिभावक काफी चिंतित रहते हैं कि क्या करें और क्या ना करें? कोचिंग के हाई-फाई facility को देख कर बहुत से अभिभावक, या फिर साधारण आय वाले व्यक्ति ग्रामीण परिवार के लोग और आर्थिक रूप से संपन्न अभिभावक भी बच्चों का नामांकन एक ऐसे संस्थान में करा बैठते हैं जिसका काफी गंभीर परिणाम निकल कर आता है| लेकिन तब तक बहुत देर हो चुका होता है|
   
        किसी भी कोचिंग में जब पढ़े लिखे अभिभावक जानने को उत्सुक रहते हैं कि कौन से शिक्षक कितने योग्यता प्राप्त हैं तथा उनका परफॉर्मेंस जानना चाहते हैं तो उन्हें यह कह कर भ्रमित कर दिया जाता है कि हम ब्रांड वैल्यू वाले कोचिंग चलाते हैं हमारा नाम ही काफी है और हमारे यहां इसकी जानकारी नहीं दी जाती है| इसी तरह के जवाब देकर वे लोग सचेत अभिभावक के बात को टाल देते हैं|

        अतः इस आधार पर किसी भी कोचिंग का चयन करना नुकसान दे हो सकता है| India के तथा कथित ब्रांड वैल्यू वाले विभिन्न बड़े coaching में basic concept ना पढ़ाए जाने के कारण अधिकतर बच्चे 12वीं की परीक्षा में फेल हो जाते हैं| जिसका परिणाम स्वरूप बच्चे depression के शिकार हो जाते हैं तथा प्रतिभाशाली बच्चों का career भी अंधकार में चला जाता है|


2- आज के दौर में 11 वीं और बारहवीं की पढ़ाई के साथ साथ Engineering/medical की तैयारी हेतु कोचिंग का चयन एवं अनुशासन पूर्वक बच्चों की पढ़ाई को पूरा कराना अत्यंत ही महत्वपूर्ण निर्णय होता है| देखा जाता है की अबोध बच्चों को अभिभावक पढ़ाई हेतु मिलो दूर भेज रहे हैं जिसके परिणाम स्वरूप कच्चे दिमाग के बच्चे या तो नशे के शिकार हो जाते हैं या तो गलत संगति के शिकार हो जाते हैं या अंत में दबाव में आकर खुदकुशी तक करने के लिए तैयार हो जाते हैं| अच्छे पढ़ाई हेतु बच्चे का दिमाग फ्रेश रहना और आत्मविश्वास बरकरार रहना बहुत जरूरी है|


3 - गौर करने वाली बात है कि आए दिन सस्ती लोकप्रियता के लिए बहुत से कोचिंग द्वारा विज्ञापन किया जाता है जिसमें सैकड़ों हजारों सफल विद्यार्थियों का फोटो छापा जाता है जिसे आप बिल्कुल भी नहीं पहचानते हैं| इस आधार पर अगर आप कोचिंग का चयन करते हैं तो आप अपने बच्चे की भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं| इसलिए मेरा परामर्श यही रहेगा कि आप सोच समझ कर कोचिंग का चुनाव करें जिससे कि आपके बच्चे का भविष्य उजागर होगा|


4 - आज के दौर में वही बच्चे कंपटीशन पास कर सकते हैं जिनका basic concept अच्छी तरह से clear हो एवं subject की गहराई से समझ उन्हें दी गई हो तभी वह NEET/AIIMS/IIT-JEE मैं सफलता प्राप्त कर सकते हैं|
यह मानना गलत नहीं है कि प्रतिवर्ष 16 lakh बच्चे medical के प्रतियोगिता परीक्षा में भाग लेते हैं लेकिन दुर्भाग्य की बात यह है कि उनमें से केवल 10000 बच्चों को ही सरकारी एवं लगभग 40000 बच्चों को ही गैर सरकारी या अर्ध सरकारी मेडिकल कॉलेज में दाखिला दिया जाता है|
11 वीं एवं 12वीं की पढ़ाई विस्तार पूर्वक तथा concept based और इमानदारी पूर्वक कराया जाना है असली शर्त है|


सलाह (Conclusion) :-

1 - किसी भी Coaching में admission लेने से पहले या अवश्य जान लेगी वहां पढ़ाते कौन है और उनकी योग्यता क्या है आपके बच्चे की सफलता के लिए यह करना बहुत ही आवश्यक है|

2 - वहां competition के साथ-साथ एक ग्यारह वीं एवं 12 वीं स्तर का basic concepts पढ़ाया जाता है कि नहीं?  यह जानना बहुत ही जरूरी है|


आखिरी बातें (Final words) - So दोस्तों आज मैंने आपको Neet/Aims/IIT-JEE की तैयारी के लिए कैसे करें बेहतर कोचिंग का चुनाव || How to choose best coaching for Neet/Aims/IIT-JEE करना बताया है तो अगर आपको हमारी यह आर्टिकल अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें और हमारे इस साइट पर हमेशा visit करते रहे जिससे कि आपको लेटेस्ट न्यूज़ मिलती रहे और आप सही जानकारी से अवगत रहे तो मैं मिलता हूं आपको नेक्स्ट आर्टिकल में तब तक के लिए Jai Hind