Guys आज मै आपको self dependent के बारे में बताने जा रही हूँ| जो कि आप लोंगो के लिए बहुत ही ज्यादा beneficial होने वाली है|
So now let's start.

Self dependent

Guys firstly you will have to know what is self dependent?

आत्म निर्भर का मतलब होता है खुद पर निर्भर होना | और आत्मनिर्भर के लिए आत्मविश्वास होना बहुत जरूरी है| आप self dependence तभी हो सकते है जब आपके पास self confidence होगा| Aur friends याद रखिए, जिस इंसान के पास  self confidence नही है वो इंसान powerful होकर भी coward है, और scholar होकर भी foolish है| आत्मविश्वास के साथ चलने वाला इंसान ही अपने मंजिल तक पहुंचता है|
Friends sometimes क्या होता है कि हम सही decision नही ले पाते है, हमारे parents कुछ कहते है, relatives कुछ कहते है, friends कुछ कहते है| In that time,आपको अपने मन की आवाज सुननी चाहिए कि आपका मन आपका दिल क्या कहता है? जैसा वो instruct करे वही  decision ले| वैसे relatives या friends से राय-विचार लेना कोई गलत नही है, इससे आपको और idea ही मिल जाता है| लेकिन problems अगर आपसे related हो तो better होगा कि आप अपना decision खुद ही ले, क्योंकि guys ये fact है कि अपने आपको खुद से ज्यादा और कोई नही जान सकता|
Self dependent // Self reliance

     दुसरो पर निर्भर होने के कारण कई बार हमारे knowledge पर भी असर पड़ता है| पता है क्यों?
क्योंकि कोई भी काम हम दूसरों पर  डाल देते है, अरे जब तक करेंगे नही तब तक हम सीखेंगे कैसे?

    Self dependent बनो, हर छोटे - मोटे चीज़ खुद करना सीखो| Guys इससे क्या होगा कि हमारे knowledge  में तो increasment आएगी ही bonus point हमारे confidence level में भी increment होगा|

     दूसरों पर depend मत रहो| अपना काम खुद करो| Dependency छोड़ दो| जब आप अपना काम खुद करोगे तो Self Reliance के साथ साथ Self Confidence भी insrease होगा, इससे ये होगा कि confidence तो बढा ही और साथ में आपके पास हर छोटी - मोटी जानकारी भी होगी|

      और जब आप खुद पर निर्भर है, Self Dependent है तो हमेशा positive way में सोचिये, negative सोच आपको बर्बाद कर देगा। हमेशा ये सोचिये I can do this.Can't में जाना ही नही हैं| कभी अपने आप को दूसरों से कम मत समझिये| अगर दुसरो के अंदर guts है तो आपके अंदर भी है क्योंकि हर इंसान के अंदर कोइ न कोई कला जरूर होता है, guys देरी है तो बस उसे निकालने की और उसे पहचानने की|

        I can, से एक story याद आ गया, two friends थे हर चीज़ वो लोग साथ मे करते थे, उठना- बैठना, खाना-पीना everything. एक बार वो लोग गांव से दूर कही जा रहे थे| अचानक एक दोस्त कुआं में गिर जाता है और फिर वो जोर-जोर से चिल्लाने लगता है help-help somebody help. उसका दोस्त उसका आवाज सुनता है, कुआं में झांककर देखता है तो उसका दोस्त कुआं में गिरा हुआ रहता है, वो फिर इधर - उधर देखने लग जाता है,की कुछ है तो नही दोस्त को बचाने के लिए, last में उसको bucket(बाल्टी) नजर आता है वो क्या करता है बाल्टी अपने दोस्त को पकड़ा देता है और कहता है जोर से पकड़ो, और ऊपर आने की कोशिश करो । Guys आपको सुनकर हैरानी होगी कि वो बच्चा महज 6 साल का होता है और वो जो पानी में होता है वो 10 साल का होता है। Friends 6 साल की उम्र में 1 बाल्टी पानी उठाना मुश्किल होता है लेकिन फिर भी वो बच्चा, उसके अंदर इतना आत्मविश्वास भरा हुआ था कि मुझे अपने दोस्त की जान बचानी ही है । And lastly वो महज 6 साल का बच्चा को बचा ही लेता है। कैसे ?

Self dependent // self reliance

क्योंकि उसे दूर - दूर तक कोई ये कहना वाला नही था कि you can't do this यहाँ तक कि वो खुद भी नहीं। उस बच्चे को अपने ऊपर इतना confidence था कि वो कर सकता है और उसने कर दिखाया।

      हमें कभी भी हिम्मत नहीं हारनी चाहिए, कोशिश करते रहो मंजिल मिले या न मिले लेकिन तजुर्बा जरूर मिल जाता है जो आपको आगे बढ़ने में खूब मददगार साबित होता है।

      So guys, हमें खुद पर depend   रहना है, और कोशिश करें कि ज्यादा दूसरों पर आश्रित न रहे। हमेशा खुद पर विश्वास करें। हमेशा खुद पर भरोसा रखें। क्योंकि अगर आप खुद पर भरोसा नही करेंगें तो कोई आप पर भरोसा नही करेगा। कभी भी दूसरों को मौका मत दो बोलने का। अपनी personality खुद develop करो। कभी ये मत सोचों की लोग क्या कहते है, लोग क्या करते है ये देखो की तुम क्या करते हो?

      कुछ लोग होते है जो सोचते है कि मै सर्वश्रेष्ठ हूँ। सिर्फ सोचो मत बल्कि खुद को proof करके दिखाओ कि yes, i am the best. You should have to know कि हमारे thinking का हमें सफल बनाने में बहुत बड़ा योगदान है। वो कहते है न कि जैसा हम सोचते है वैसे ही हम बन जाते है। और ये सही भी है अगर हम positive way में सोचेंगे तो positive ही होगा और अगर हम negative way में सोचेंगे तो negative ही होगा। अगर आपको अपने लक्ष्य तक पहुँचना है तो positive way में सोचिये कि yes i can. I can do it. मै किसी से कम नही हूं। मुझे अपने ऊपर पूरा विश्वास है। फिर वही दूसरी ओर आप negative way में सोचेंगे कि ओर भी तो intelligent परीक्षार्थी  है जब वो नही निकल पाए तो मै कैसे निकल पाऊंगा। मुझसे नही होगा, मुझे डर लग रहा है।  I can't do this  तो ये थी आपकी negative thinking. अगर आप इसको अपने ऊपर हावी होने देते है तो आप कभी अपने लक्ष्य तक नहीं पहुंच पाएंगे।

    So I believe in Think positive, be positive and be positive be creative.